AgricultureNews

Crop Insurance New List : किसानों के बैंक खाते में प्रति हेक्टेयर 13000 रुपये की सब्सिडी जमा होना शुरू हो गया है, लिस्ट देखे अपना नाम |

Crop Insurance New List : सरकार ने एक लाख रुपये की सब्सिडी देने की घोषणा की थी। हालांकि 29 मार्च से मुआवजा अनुदान किसानों के बैंक खातों में जमा होना शुरू हो गया है।

राज्य के कुछ किसानों के बैंक खातों में मुआवजा सब्सिडी Compensation subsidy in farmers’ bank accounts का पैसा जमा किया गया है। लेकिन अभी तक कई किसानों के बैंक खाते में सब्सिडी Subsidy का पैसा नहीं आया है। हालांकि शेष सभी किसानों के बैंक खातों Bank accounts में मुआवजा अनुदान राशि जल्द ही सरकार द्वारा जमा करा दी जाएगी।

मुआवजा लाभार्थी सूची देखने के लिए

यहाँ क्लिक करें

Crop insurance list 2023

शासन द्वारा मुआवजा अनुदान की हितग्राहियों की सूची भी ऑनलाइन प्रकाशित की गई है। नीचे उन सूचियों को देखने के लिए लिंक है। आप उस लिंक पर क्लिक करके लाभार्थी सूची देख सकते हैं। Crop Insurance New List

भारी बारिश, बाढ़ और चक्रवात जैसी प्राकृतिक आपदाओं के कारण कृषि फसलों Agricultural crops को नुकसान होने की स्थिति में, किसानों को राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष से निर्धारित दर पर इनपुट सब्सिडी के रूप में सीजन में एक बार इनपुट सब्सिडी दी जाती है।साथ ही, अन्य स्वीकृत के लिए राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष के मामलों में निर्धारित दर पर सहायता भी प्रदान की जाती है।

Bank Loan 2023 : खुशखबरी, जिन किसानों का इस बँक में खाता है उन किसानों का सरकार करेगीं पुरा कर्जा माफ

राज्य में जुलाई, 2022 में हुई भारी वर्षा एवं बाढ़ से जिन प्रभावित किसानों की फसलें विभिन्न जिलों में क्षतिग्रस्त हुई हैं, उन्हें निवेश अनुदान के रूप में सहायता प्रदान करने के संबंध में दिनांक 10.08.2022 को मंत्रिपरिषद की बैठक में लिये गये निर्णय के क्रम में अन्य क्षतियों हेतु सहायता, शासन का निर्णय, राजस्व एवं वन विभाग क्रमांक सी.एल.एस.-2022/प.सं.253/एम-3, द

जून से अक्टूबर, 2022 की अवधि में बाढ़ सरकार ने इस तरह की प्राकृतिक आपदाओं के कारण राज्य के विभिन्न जिलों में कृषि फसलों के नुकसान Damage to agricultural crops के लिए प्रभावित किसानों को निवेश अनुदान के रूप में निम्नानुसार सहायता प्रदान करने की मंजूरी दी है। Crop insurance list

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles