Irrigation Pipeline Subsidy  : सूक्ष्म सिंचाई संयंत्र लगाने के लिए मिलेगा 85 प्रतिशत सब्सिडी, किसान यहाँ करें आवेदन

विश्व बैंक (डब्ल्यूआरजी) राज्य के गन्ना किसानों को परियोजना के तहत सूक्ष्म सिंचाई संयंत्र लगाने में आने वाली लागत का 85 प्रतिशत तक अनुदान देगी। वहीं, शेष 15 प्रतिशत लागत राज्य के निजी चीनी मिलों द्वारा किसानों को प्रदान की जाएगी। जिसकी वसूली बाद में किसानों से किस्तों के माध्यम से की जाएगी। इसके साथ ही, टूट-फूट और संयंत्र चोरी होने पर किसानों को शत-प्रतिशत बीमा का लाभ भी मिलेगा। राज्य में गन्ना किसानों को इस अनुदान के लिए डब्ल्यूआरजी (विश्व बैंक) 220 करोड़ रुपए खर्च करेगा।

सिंचाई पाईप अनुदान के लिए

यहां ऑनलाइन आवेदन करें

2030 जल संसाधन समूह

2030 जल संसाधन समूह, विश्व बैंक समूह का एक सार्वजनिक, निजी, सिविल सोसाइटी मल्टी-डोनर ट्रस्ट फंड है। डब्ल्यूआरजी (WRG) सामूहिक निर्णय लेने और पानी से जुड़े सभी क्षेत्रों में मज़बूत सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा देने वाले लीक से हटकर (आउट-ऑफ-द-बॉक्स) समाधानों को सह-डिजाइन करने में हितधारकों का समर्थन करता है।